June 23, 2024 12:52 pm

Follow US

  • AI Driven Digital Marketing Agency

10 साल की जेल और ₹7 लाख जुर्माने का नियम, हिट एंड रन कानून के खिलाफ सड़कों पर उतरे बस-ट्रक ड्राइवर

हिट एंड रन कानून के खिलाफ चक्का जाम।- India TV Hindi

Image Source : INDIA TV
हिट एंड रन कानून के खिलाफ चक्का जाम।

मध्य प्रदेश से लेकर राजस्थान, महाराष्ट्र, बिहार, यूपी समेत देश के करीब 8 राज्यों में इस वक्त बस और ट्रक ड्राइवरों ने भारी हड़ताल कर रखी है। हड़ताल के कारण कई क्षेत्रों में सप्लाई, स्कूलों, पेट्रोल पंप आदि पर भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ये लोग नए कानूनों में हिट एंड रन के खिलाफ सख्त सजा के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। बस और ट्रक ड्राइवरों की इस हड़ताल का नेतृत्व ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (AITMC) कर रही है। AITMC का कहना है कि नए कानून के पीछे सरकार का इरादा अच्छा है लेकिन कानून में कई खामियां हैं जिनपर दोबारा सोचे जाने की जरूरत है। 

कहां-कहां हो रही है हड़ताल?

बीते तीन दिनों से बस और ट्रक ड्राइवर देश के विभिन्न राज्यों में प्रदर्शन कर रहे हैं। इनमें बिहार, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, छत्तीसगढ़, यूपी, उत्तराखंड, गुजरात और पंजाब शामिल हैं। इन राज्यों के अनेक हिस्सों में ड्राइवर हड़ताल और विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। कई जगहों पर सड़क पर वाहन खड़े कर के टायर जलाकर भी प्रदर्शन किया गया है। 

महाराष्ट्र में बड़ा असर

ट्रक ड्राइवर्स की हड़ताल का बड़ा असर महाराष्ट्र में दिखाई दे रहा है। पेट्रोल-डीजल की गाड़ियां पंप तक नहीं पहुंच पा रही है। ईंधन खत्म होने की आशंका के वजह से बड़े पैमाने पर पैनिक बायिंग हो रही है और पेट्रोल पंप पर गाड़ियों की लंबी-लंबी कतारें हैं। गाड़ियों की संख्या ज्यादा होने की वजह से पेट्रोल-डीजल भरने के लिए करीब 1 घंटे का समय लग रहा है। लोग भिवंडी, मुंब्रा शहर से ठाणे में पेट्रोल खरीदने आ रहें हैमाजीवाड़ा पेट्रोल पंप पर पिछले 2 दिनों से ईंधन की गाड़ियां नहीं आई है। अगर दोपहर तक ईंधन की आपूर्ति नहीं हुई तो शाम 4 बजे तक इस पेट्रोल पंप को भी बंद कर दिया जाएगा। ठाणे और उसके आसपास के शहर के कई पेट्रोल पंप या तो बंद हो गए हैं या फिर बहुत कम ईंधन इन पैट्रोल पंप पर बचा है 

भोपाल में स्कूल बंद

मध्य प्रदेश में भी हिट एंड रन कानून के विरोध में ट्रक बस ड्राइवर हड़ताल जारी है। भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर सहित तमाम इलाकों में बसों ट्रैकों के पहिए थमे हुए हैं। हड़ताल के चलते आवागमन दूध सब्जियों की सप्लाई भी प्रभावित हो गई है। स्कूल वैन और बसेस बंद होने के चलते भोपाल के तमाम स्कूलों में दो दिन का बंद भी घोषित कर दिया गया है। हड़ताल लंबी चलने और पेट्रोल खत्म होने की आशंका की चलते लोग पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल डलवाने पहुंच रहे हैं।

 

क्यों हो रही है हड़ताल?

दरअसल, देश में लागू हुए नए हिट एंड रन कानून के खिलाफ ट्रांसपोर्टर और ट्रक ड्राइवर हड़ताल पर चले गए हैं। केंद्र सरकार द्वारा 2023 में भारतीय न्यायपालिका संहिता में संशोधन के बाद, नए मोटर वाहन अधिनियम में दुर्घटना के लिए जिम्मेदार ट्रक चालक के लिए दस साल की जेल की सजा का प्रावधान किया गया है।  इसके अलावा 7 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया जाएगा।  इस नए कानून को रद्द करने की मांग को लेकर तीन दिवसीय हड़ताल का आह्वान किया है। 

ये भी पढ़ें- INDI अलायंस में नीतीश को बड़ी जिम्मेदारी! संयोजक को लेकर बुधवार को Zoom पर होगी मीटिंग

ये भी पढ़ें- अनुच्छेद 370 पर फैसले की आलोचना पर टिप्पणी से CJI चंद्रचूड़ का इनकार, बोले- न्यायाधीश किसी भी मामले में

Latest India News

Source link

Leave a Comment

Read More

  • AI Driven Digital Marketing Agency

POLL

0
Default choosing

Did you like our plugin?